“जाके पाँव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई” पर 700 से 800 शब्दों में निबंध लिखें ?

“जाके पाँव न फटी बिवाई, वो क्या जाने पीर पराई” यह कहावत भारतीय जनजीवन में अत्यधिक प्रसिद्ध है। इस कहावत का अर्थ है कि जिसने स्वयं कष्ट नहीं भोगा है, वह दूसरों के कष्ट को नहीं समझ सकता। यह कहावत Read More …

नालंदा प्राचीन और प्रारंभिक मध्यकालीन भारत का एक मठ-सह-शैक्षणिक प्रतिष्ठान मात्र नहीं था। चर्चा करें।

नालंदा

नालंदा विश्वविद्यालय प्राचीन और प्रारंभिक मध्यकालीन भारत का एक प्रमुख मठ-सह-शैक्षणिक प्रतिष्ठान था, लेकिन इसका महत्व केवल इसके शैक्षणिक योगदान तक सीमित नहीं था। नालंदा के बहुआयामी महत्व को निम्नलिखित बिंदुओं के माध्यम से विस्तारित किया जा सकता है: 1. Read More …

1857 के विद्रोह ने अंग्रेजों को भारतीय प्रशासन को पूरी तरह से बदलने पर मजबूर कर दिया। ब्रिटिश भारत में 1857 के विद्रोह से पहले और बाद के प्रशासन का तुलनात्मक विश्लेषण करें।

1857 के विद्रोह

1857 के विद्रोह ने ब्रिटिश प्रशासन को भारतीय प्रशासन प्रणाली में महत्वपूर्ण परिवर्तन करने पर मजबूर कर दिया। इस विद्रोह से पहले और बाद के प्रशासन का तुलनात्मक विश्लेषण निम्नलिखित बिंदुओं के माध्यम से किया जा सकता है: 1. प्रशासनिक Read More …

वैश्विक घरेलू एयरलाइन बाज़ार में भारत तीसरे स्थान पर

भारत ने पिछले एक दशक में अपने घरेलू विमानन क्षेत्र में महत्वपूर्ण उपलब्धियाँ हासिल की हैं, जो अप्रैल 2024 तक घरेलू एयरलाइनों के लिए दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा बाज़ार बन जाएगा। यह दस साल पहले के अपने पांचवें स्थान Read More …

सरकार ने राष्ट्रीय मुद्रीकरण पाइपलाइन ( National Monetisation Pipeline ) के तहत वित्त वर्ष 24 में ₹1.56 लाख करोड़ का मुद्रीकरण किया

सरकार ने वित्त वर्ष 2023-24 में राष्ट्रीय मुद्रीकरण पाइपलाइन ( National Monetisation Pipeline ) के तहत ₹1.56 लाख करोड़ की संपत्ति का मुद्रीकरण किया, जो ₹1.8 लाख करोड़ के लक्ष्य से कम है। यह प्रदर्शन 2021-22 में उपलब्धि का लगभग Read More …

कृषि सखी कार्यक्रम ( Krishi Sakhi Program )

18 जून, 2024 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी में 30,000 से अधिक स्वयं सहायता समूहों को कृषि सखी के रूप में प्रमाण-पत्र प्रदान किए। इस कृषि सखी कार्यक्रम ( Krishi Sakhi Program ) का उद्देश्य कृषि में ग्रामीण महिलाओं Read More …

International Yoga Day 2024 ( अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2024 )

21 जून को प्रतिवर्ष मनाया जाने वाला यह विशेष दिन International Yoga Day 2024 ( अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2024 ) योग कक्षाओं, कार्यशालाओं और वार्ता के लिए दुनिया भर के लाखों लोगों को एक साथ लाता है। वर्ष 2024 एक Read More …

112वां अंतर्राष्ट्रीय श्रम सम्मेलन ( 112th International Labour Conference )

112वां अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन ( 112th International Labour Conference ) 3-14 जून 2024 तक जिनेवा में आयोजित किया गया। इसमें 4,900 से अधिक प्रतिनिधियों ने भाग लिया – जो सरकारों, नियोक्ताओं और श्रमिकों के संगठनों का प्रतिनिधित्व करते हैं। ILO Read More …

World Food India 2024

वर्ल्ड फूड इंडिया के तीसरे संस्करण के अग्रदूत के रूप में, केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री श्री चिराग पासवान और केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग और रेल राज्य मंत्री श्री रवनीत सिंह ने वर्ल्ड फूड इंडिया 2024 ( World Food India Read More …

भारतीय सेना ने स्वदेशी ASMI Submachine Gun को शामिल किया

आत्मनिर्भरता की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए, भारतीय सेना की उत्तरी कमान ने हैदराबाद स्थित लोकेश मशीन लिमिटेड से 4.26 करोड़ रुपये की लागत वाली 550 स्वदेशी रूप से डिजाइन, विकसित और निर्मित ASMI Submachine Gun का ऑर्डर Read More …

World Sickle Cell Day 2024

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने सिकल सेल रोग को सार्वजनिक स्वास्थ्य समस्या के रूप में मान्यता दी और दिसंबर 2008 में 19 जून को विश्व सिकल सेल दिवस ( world-sickle-cell-day-2024 )  के रूप में नामित किया। इस दिन का उद्देश्य रोग Read More …

दक्षिण-पूर्व एशिया में थाईलैंड विवाह समानता विधेयक पारित करने वाला पहला देश बना

18 जून को राज्य की सीनेट द्वारा विवाह समानता विधेयक को मंजूरी दिए जाने के बाद थाईलैंड दक्षिण-पूर्व एशिया का पहला देश बन जाएगा, जिसके समर्थकों ने इसे “LGBTQ+ अधिकारों के लिए एक महत्वपूर्ण कदम” बताया। थाईलैंड एशिया में विवाह Read More …